रवी शंकर प्रसाद का चाहना है की आईफोन( I PHONE ) इंडिया में ही असेंबल्ड हो,

रवी शंकर प्रसाद का चाहना है की  आईफोन( I PHONE ) इंडिया में ही असेंबल्ड हो,

कॉर्पोरेट टैक्स में कटौती होने से कई बड़ी-बड़ी विदेशी कंपनियां जैसे कि एप्पल फॉक्सकॉन फ्लेक्सी स्मार्ट मैं सोच रहे हैं बड़े पैमाने में इन्वेस्टमेंट करने की योजना बना रहे hai !

अभी हाल में केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने यह भी बोला था कि अगर एप्पल कंपनी जो है इंडिया में असेंबल्ड करें आईफोन तो इंडिया के लिए भी अच्छा होगा और आईफोन के लिए अच्छा होगा

तो यह आईफोन कंपनी जो है इंडियन customer’s उसको बहुत सस्ते में दे सकती हैं क्योंकि मैन्युफैक्चरिंग इंडिया में होगा वह!

रविशंकर प्रसाद बताया कि उन्होंने हर प्रयास करेंगे वह कि बाहर कंपनी जो बड़ी-बड़ी विदेशी कंपनियां है  एप्पल आईफोन सैमसंग इन्वेस्टमेंट इंडिया में kare or  प्लांट नर्सरी जितने भी यूनिट्स मोबाइल की होती हैं यहां असेंबल ho !

एप्पल जैसी कंपनियां इतनी बड़ी-बड़ी कम बावजूद भी भारत को काफी सीरियस ले रहे हैं कौन हो गया सैमसंग हो गया मोटरोला हो गया रविशंकर प्रसाद बता रहे थे

कि कई ऐसी है कई है जो कि इसको ऐसे काम किए हैं नीतियां को बदलाव किया गया है जो कि बाहरी फॉरेन इन्वेस्टमेंट ई में आ सके इस वजह से कई ऐसी चीजें हैं जिसमें बदलाव लाया गया है

मान लीजिए कि 90 के दशक में दो चीजें थी भारत में और जॉन कानून बनी हुई थी एफडीआई के लिए फॉरेन डायरेक्ट i बेस्ट मैन investment

यह बहुत अच्छी बात है की सेमसंग जे सी बड़ी विगत कंपनी चाइना से वापस हो रही है की नजर में बनी हुई और भारत को काफी सीरियसली ले रही है आप यह कह सकते हैं कि दुनिया की सबसे बड़ी और दूसरी नंबर की मोबाइल उपभोक्ता जो फोन यूजर्स होते हैं वह दूसरे नंबर पर पूरे वर्ल्ड में इंडिया आता है कि अच्छी बात है कि एप्पल फॉक्सकॉन बड़ी मात्रा में बड़ी सोच के साथ इन्वेस्टमेंट किले लेकर इंडिया पहुंच रहे हैं और सबसे बड़ी वर्ल्ड की आईफोन स्टोर मुंबई में खुलने जा रहा है यह काफी खुशी की बात है

हमारे लिए बहुत बड़ी बात है और बहुत खुशी की बात है कि एप्पल जैसी कंपनियां हैं इंडिया में इन्वेस्टमेंट के लिए काफी इंटरेस्टेड हैं सैमसंग तो है ही सैमसंग तो बहुत पहले से ही बहुत ही स्ट्रांग रूप से इंडिया में प्रजेंट है बरकरार रहे गा प्रजेंट

कुछ दिक्कतें आ रहे थे बड़े-बड़े कंपनियों के सीईओ से मीटिंग करी है वह प्रॉब्लम को उनकी समस्याओं कम लोगों ने समझा है हुआ है हम लोगों ने 5 परसेंट टैक्स कम भी किया है इनके लिए और बेनिफिशियल हो जाएगा यह जिस वजह से कई सारे कॉरपोरेट और फॉरेन इन्वेस्टमेंट दया और काफी खुशी से वह आ रहे हैं जी बहुत अच्छी बात है भारत की कॉमिक के लिए

 

Leave a Comment